Hack-A-BIT Day 2 Media

Hack-A-BIT Day 2 Media

The second day of Times Internet and TEQIP presents HACK-A-BIT 2019 was held on 19th october, 2019 at Birla Institute of Technology, Mesra. The English and Hindi media reports have been attached below. The photographs will be sent in a while.

English Media Report

  • The second day of Times Internet and TEQIP presents HACK-A-BIT 2019 started with breakfast at 8:00 A.M. for the participants and organisers in the Community Hall on October 19, 2019.
  • An enlightening talk by the Head of Marketing at ZEIT, Sarup Banskota was organised in Room number 208 from 9:00 in the morning.
  • The speaker illustrated on how he embarked on the journey of entrepreneurship and began with tiny steps to achieve the ultimate goal of being able to create a better impact on the society.
  • He also talked about the significance of the side hustles that we pursue in college or high school like digital designing and open sourcing.
  • His corporation, ZEIT simplifies the deployment of websites and setting up of a domain. This in turn would help small businesses and side hustles thrive. He also encouraged the students to participate in the ZEIT challenge, that is to deploy websites using ZEIT.
  • He went on to illustrate the process of process of website deployment within 30 seconds, by live demo.The ZEIT Challenge winners would bag a cash prize of Rs. 10,000.
  • Following the talk, the gruelling coding session continued in the Hack Arena for the participants.
  • The second half of the day witnessed an inspiring talk by Ms. Ramya Authappan, Engineering Manager, Quality at GitLab Inc. She has an experience of more than 10 years in a myriad of projects and technology software.
  • Exclusive views and expertise of skills on DevSecOps at GitLab were elucidated. The importance of effective communication and interpersonal skills were also explained by the honourable speaker.
  • A mid evaluation was organised for the participating teams from 4:00 P.M in Seminar Hall-2. The judges checked upon the participants and the progress made by them so far.
  • A guest talk by Mayank Garg, a Delhi Technical University engineering graduate, currently working on the best of the techniques of data analysis and machine learning and working as a senior consultant at Google, was held from 7:00 P.M in Room 208.
  • He has worked extensively in different domains of data analysis, interpretation and Natural Language Processing. He has also been a keynote speaker in programmes and provided mentorship to industry professionals in his domain. 
  • The Twitter Challenge required the students to get pictures clicked with innovative hashtags. After the informal session, the pictures were posted on popular social media platforms. 
  • The coding session resumed for the rest of the night with a dinner break at 8:00 P.M.

Hindi Media Report

  • हैकाथॉन ‘हैक-अ-बिट’ का दूसरा दिन 19 अक्टूबर, 2019 को प्रातः 8:00 बजे नाश्ते के साथ शुरू हुआ जो कि प्रतियोगियों एवं आयोजकों के लिए कम्युनिटी हॉल में व्यवस्थित किया गया था।
  • ‌प्रातः 9:00 बजे कमरा संख्या 208 में ज़ीट के प्रबंधन प्रमुख, सरूप बाँसकोटा ने प्रेरणादायक व्याख्यान दिया। 
  • उन्होंने विस्तार में बताया कि किस प्रकार उन्होंने उद्यमिता की यात्रा शुरू की।
  • समाज पर बेहतर प्रभाव पैदा करने में सक्षम होने के अंतिम लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए छोटे कदमों के साथ उन्होंने अपने पेशेवर जीवन कि शुरुआत की। 
  • उन्होंने साइड हसल्स के महत्व के बारे में बात की कि हम कॉलेज या हाई स्कूल में डिजिटल डिजाइनिंग और ओपन सोर्सिंग की तरह प्रयोग करते है। 
  • उनका निगम ज़ीट वेबसाइट डोमेन की स्थापना को सरल करता है। 
  • यह बदले में छोटे व्यवसायों और साइड हसल्स को बढ़ाने में मदद करेगा। 
  • उन्होंने छात्रों को ज़ीट चुनौती में भाग लेने के लिए प्रोत्साहित किया जो कि ज़ीट का उपयोग करकेवेबसाइट को तैनात करना था। 
  • उन्होंने बताया कि वह लाइव डेमो द्वारा 30 सेकंड के भीतर वेबसाइट परिनियोजन की प्रक्रिया का वर्णन करता है।
  • ‌ज़ीट चैलेंज के विजेता को 10,000 रुपये की नकद राशि मिलेगी।
  • ‌व्याख्यान के पश्चात, रोमांचक कोडिंग सेशन हैक-अ-एरीना में शुरू हुआ।
  • ‌कम्यूनिटी हाल में दोपहर के भोजन के ब्रेक के बाद कोडिंग सेशन जारी हुआ।
  • ‌दिन के दूसरे हिस्से में गिटलैब में क्वालिटी मैनेजर, राम्या ओथप्पन ने एक प्रेरणादायक व्याख्यान दिया। 
  • उन्हें परियोजनाओं और प्रौद्योगिकी सॉफ्टवेयर्स में 10 वर्ष का अनुभव है। 
  • गिटलैब में डेवसेकऑप्स पर कौशल के विशिष्ट विचार और विशेषज्ञता को स्पष्ट किया गया।
  • उन्होंने प्रभावी संचार और पारस्परिक कौशल के महत्व को भी समझाया गया।
  • ‌भाग लेने वाली टीमों के लिए शाम 4:00 बजे मध्य मूल्यांकन आयोजित किया गया था। निर्णायकों ने प्रतिभागियों को और अब तक की प्रगति पर जाँच की।
  • ‌मयंक गर्ग, एक डीटीयू इंजीनियरिंग स्नातक जो वर्तमान में डेटा विश्लेषण और मशीन लर्निंग की सर्वोत्तम तकनीकों पर काम कर रहे हैं। 
  • गूगल में एक वरिष्ठ सलाहकार के रूप में काम करते हुए, उन्होंने डेटा विश्लेषण, व्याख्या और प्राकृतिक भाषा प्रसंस्करण के विभिन्न डोमेन में बड़े पैमाने पर काम किया है। 
  • गूगल के बाहर भी, उन्होंने मेंटरशिप और प्रशिक्षण कार्यक्रमों में सक्रिय रूप से भाग लिया है।
  • ‌ट्विटर चैलेंज में प्रतिभागियों को हैक क्षेत्र में विभिन्न स्थानों पर जाना था।
  • ‌ट्विटर चैलेंज में छात्रों को अभिनव हैशटैग के साथ क्लिक की गई तस्वीरों को प्राप्त करना था।
  • ‌अनौपचारिक सत्र के बाद, तस्वीरें लोकप्रिय सोशल मीडिया प्लेटफार्मों पर पोस्ट की गईं।
  • रात्रि 8:00 बजे भोज के बाद कोडिंग सत्र शेष दिन के लिए फिर से शुरू हुआ।

Leave a Reply